अतीत के झरोखे से अपनी खबर अभिमत आज का सच आलेख उपलब्धि कथा कविता कहानी गजल ग़ज़ल गीत चिंतन जिंदगी तिलक हॊली मनाएँ दिव्य दृष्टि दीप पर्व दृष्टिकोण दोहे नाटक निबंध पर्यावरण प्रकृति प्रबंधन प्रेरक कथा प्रेरक कहानी प्रेरक प्रसंग फिल्‍म संसार फिल्‍मी गीत फीचर बच्चों का कोना बाल कहानी बाल कविता बाल कविताएँ बाल कहानी बालकविता मानवता यात्रा वृतांत यात्रा संस्मरण लघु कथा लघुकथा ललित निबंध लेख लोक कथा विज्ञान व्यंग्य व्‍यक्तित्‍व शब्द-यात्रा' श्रद्धांजलि सफलता का मार्ग साक्षात्कार सामयिक मुस्‍कान सिनेमा सियासत स्वास्थ्य हमारी भाषा हास्‍य व्‍यंग्‍य हिंदी दिवस विशेष हिंदी विशेष

2:38 pm
कहानी का अंश... शाम को आने दो पापा को, तुम्हारी और पिटाई होगी । ' राहुल की माँ सुनीता ने कहा । राहुल एक कोने में सहमा सा खड़ा हुआ था । माँ ने उसकी पिटाई की थी क्योंकि आज फिर उसने अपनी छ. महीने की बहन रुचि को मारा था । 'न जाने क्या हो गया है इस लड़के को' सुनीता क्रोध में थी । जब देखो छोटी बहन पर हाथ चलाता है। ' नन्हीं रुचि के गाल पर ऊँगुलियों की छाप थी । माँ ने राहुल की आवाज नहीं सुनी तो उसका गुस्सा उसने नन्हीं रुचि पर निकाला था । कभी- कभी सुनीता परेशान हो जाती दोनों को संभालते हुए । रूचि के आ जाने से राहुल में अचानक परिवर्तन आ गया था 1 उसे लगने लगा कि रुचि के रूप में उसका प्रतिद्वन्दी घर में आ गया है । बात-बात पर वह घर की चीजें तोड़ता नहीं तो रुचि को तंग करता । कभी उसके चिकोटी काट कर उसको रुला देता तो ? उसकी बोतल की निपल काट देता। हर तरह से सुनीता का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट करने की कोशिश करता । शाम को पापा जब घर पर आए तो की शिकायत हुई । समस्या गंभीर । राहुल कहने को छोटा नहीं था । पूरे आठ वर्ष का हो गया था । 'राहुल इधर आओ' राहुल के पिता बुलाया । 'तुमने बहन को क्यों मारा? ' राहुल सिर झुकाए खड़ा रहा । एक व थप्पड़ राहुल के गाल पर पड़ा । सुबक पड़ा । मुझ से कोई प्यार नहीं । आप दोनों बस रुचि को ही प्यार करते हैं । मैं यहाँ नहीं रहूँगा । मैं घर छोड़ कर चला जाऊँगा' राहुल रोते हुए अपने कमरे में चला गया । राहुल के माता- पिता अवाक थे । बात इतनी गंभीर हो जाएगी ऐसा उन्होंने सोचा भी नहीं था। यदि समय रहते इस समस्या का हल नहीं निकाला गया तो राहुल विद्रोही हो जाएगा । यह बात राहुल के माता- पिता को परेशान किए हुए थी । आखिर उन्होंने इस समस्या का क्या हल निकाला? जानने के लिए ऑडियो की मदद लीजिए...

एक टिप्पणी भेजें

Author Name

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.