बुधवार, 30 दिसंबर 2015

कहानी - चुटकी भर सिंदूर

चुटकी भर सिंदूर नारी की शक्ति है,जिसके बल पर वह जीवन में आए लाखों तूफानों का मुकाबला कर सकती है। कुछ इसी तरह का संकेत भारती परिमल की इस मार्मिक कहानी में छिपा है -

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Post Labels